शिक्षक दिवस


ज्ञान का कुछ गुमान न
करते कभीअभिमान न
कोई उनके समान न
शिक्षा उन्हीं की तारती l
पढ़ना सिखाया आपने
बढ़ना सिखाया आपने
जीवन बनाया आपने
खुश हो रही है भारती l
विकास के आधार हैं
विज्ञान के भंडार हैं
करते सबसे प्यार हैं
है उन्हीं को आरती ll

राज वीर सिंह 
तरौंदा कानपुर देहात 

0 comments:

Post a Comment